free ssl

3.4 free ssl https, name servers and update

आज हम इस ब्लॉग में सीखने वाले हैं कि http को आप https में कैसे कन्वर्ट कर सकते हो।

अगर किसी वेबसाइट के यूआरएल के लेफ्ट साइड के starting में मैं एक लॉक का निशान होता है. अगर वहां पर लिखा आ रहा है की your website is not secure तो इसका मतलब होता है की आपकी वेबसाइट में SSL इनस्टॉल नहीं है।

अगर आपने चेक करना होंगे आपका URL https में है या नहीं तो आप अपने यूआरएल के स्टार्टिंग में https डालकर एंटर प्रेस करो. अगर आपकी वेबसाइट https में होगी तो ओपन हो जाएगी. otherwise  वह ओपन नहीं होगी तो इससे भी आपको पता चल सकता है की आपकी वेबसाइट सिक्योर है या नहीं।

आप जिस कंपनी से होस्टिंग परचेस करते हो वह सस्ल के लिए आपसे चार्ज लेती हैं लेकिन असल में सस्ल फ्री होता है सस्ल फ्री में मैं लेने के लिए आपने क्लॉउडफ्लारे नाम की वेबसाइट पर जाना है.

free ssl

इस वेबसाइट में आने के बाद अपने यहाँ पर अपना अकाउंट क्रिएट करना है है सिंपल जैसे आप इतर अकाउंट क्रिएट करते हो वैसे ही आपने यहाँ पर अकाउंट क्रिएट कर लेना है

2nd

free ssl

जब आपने कोई वेबसाइट ऐड करनी है जिसमें आप सस्ल इनस्टॉल करना चाहते हो तो क्लाउड फ्लारे में लॉगिन करने के बाद सर्च बार में आपने अपनी वेबसाइट का नहीं डालना है और ऐड साइट पर क्लिक करना है

free ssl

जब आप की वेबसाइट में सस्ल इनस्टॉल होता है तो गूगल को भी आप की वेबसाइट पर ट्रस्ट होता है

जब आप अपना यूआरएल यहाँ पैर डालेंगे तो आपको यहाँ पर कुछ प्लान्स दिखेंगे आपने उन प्लान्स को सेलेक्ट नहीं करना है उन प्लान्स के निचे आपको 1 फ्री ऑप्शन मिलेगी उसको सेलेक्ट करके कंटिन्यू कर देना है

इस ऑप्शन से आप लाइफटाइम के लिए सस्ल फॉर फ्री में मैं एक्सेस कर सकते हो

जैसे मान लीजिये आपने गोदड़ी से डोमेन लिया हुआ है और ब्लूहोस्ट से होस्टिंग ली हुई है तो आप ब्लूहोस्ट के नाम सर्वर गोदड़ी के अंदर सबमिट करते हो लेकिन अब हमें सस्ल फॉर फ्री इन्स्टॉल करने के लिए गोदड़ी में जाकर क्लौड़फ्लारे के नामसर्वेर सबमिट करने होंगे जब हम गोदड़ी वेबसाइट में क्लॉउडफ्लारे के नामसर्वेर सबमिट करेंगे तब हमारा सस्ल फॉर फ्री होगा.

आपने गोदड़ी के अंदर जाकर उसे ऑप्शन में चले जाना है जहाँ पर आप नामसर्वेर चेंज कर सकते हो

आप को गोदड़ी के अन्दर 1 फॉरवार्डिंग की ऑप्शन मिलेगी

उसे ऑप्शन में आप अपने दामन को डायरेक्टली फारवर्ड कर सकते हो जैसे आपका कोई दूसरा डोमेन है और आप चाहते हो के जब कोई इस डोमेन पर एंटर करें तो वह ऑटोमेटिकली आपके डोमेन पैर रेडिरेक्ट हो जाए तो आप इस ऑप्शन से उसे कर सकते हो इसका उसे बसीकली कहाँ होता है मैं आपको बताता हूँ

जैसे मान लीजिये आपने गूगल.कॉम डोमेन लिया हुआ है तो अब आपने एक और डोमेन ले लिया गूगल.सीओ.इन और एक और ले लिया गूगल.इन तो यह तीनों नाम अलग अलग हैं लेकिन आप चाहते हो कि तीनों नाम जब कोई सर्च करें तो एक ही वेबसाइट खुले तो आप एक मैं डोमेन में रख लीजिये जैसे गूगल.कॉम और फॉरवार्डिंग ऑप्शन से गूगल.इन को करवा दीजिये गूगल.कॉम पैर और गूगल.सीओ.इन को भी ऑपरेट डायरेक्ट करवा दीजिये गूगल.कॉम पर तो इस तरह से आप इस ऑप्शन का भी फायदा उठा सकते हो

What are subdomains?

सब्डोमैन डोमेन का ही एक पार्ट होता है जो के डोमेन नाम और एक्सटेंशन से पहले आता है. यह हमें वेबसाइट को ऑर्गेनिसे करने में हेल्प करता है.

URL ke 2 part Hote Hain

1. TLD (top level domain)

2. SLD (second level domain)

e.g https://blog.themeisle.com

themeisle = SLD

.com = TLD

blog = SUBDMAIN

क्लॉउडफ्लारे में जब आप कंटिन्यू करोगे तो वहां पर आपको दो नामसर्वेर दिखाई देंगे वहाँ से आप इन्हे कॉपी कर सकते हो हो और कॉपी करके अपनी डोमेन वेबसाइट में पेस्ट कर सकते हो

जब आप यहाँ से नामसर्वेर कॉपी करके अपने डोमेन वेबसाइट में पेस्ट कर देते हो तो उसको अपडेट होने के लिए 24 से 48 घंटे लगते हैं

उसके बाद आपको एचटीटीपी रेवरिट्स की ऑप्शन मिलेगी उसको आपने on कर देना है.

always use https को भी हम on करेंगे

ऑटो मिनिफी ऑप्शन को आपने नहीं छेड़ना है जैसे है वैसे ही पड़ा रहने देना है और सेव पर क्लिक कर देना है

उसके बाद में एक ऑप्शन आती है brotli. इस ऑप्शन को भी अपने on कर देना है या ऑप्शन option initially speed increase करती है।

Uske bad Mein finish per click kar do

complete name server setup में आने के बाद अपने चेक नामसर्वेर पर क्लिक करना है अगर आपने सुसस्फुल्ली नामसर्वेर इनस्टॉल कर दिए होंगे तो यह आपको स्टेटस दिखा देगा

sucessfully update होने में भी थोड़ा टाइम लग जाता है

जब यह प्रोसेस आपका कम्पलीट हो जाएगा तो आप SSL TLS option में आओगे या बहुत इम्पोर्टेन्ट ऑप्शन है है यहाँ पर आप फ्लेक्सिबल और फुल ऑप्शन रख सकते हो अगर आप फ्लेक्सिबल रखते हो तो अगर कोई एचटीटीपी पर क्लिक करता है तो एचटीटीपी वेबसाइट खुलेगी अगर आपको फुल रखते हो तो फिर चाहे कोई हत्तपः खोले या एचटीटीपी उसे कंडीशन में आपकी वेबसाइट हत्तपः में ही खुलेगी मतलब हमेशा सिक्योर ही रहेगी

उसके बाद निचे SSL TLS recommender option को भी अपने on कर देना है.

 64 total views,  1 views today

Leave a Comment

Your email address will not be published.